अहिंसा विश्व भारती का समाज निर्माण मे विशिष्ट योगदान – भूपेश बघेल, मुख्यमंत्री

छत्तीसगढ़ के राज्यपाल व मुख्यमंत्री अहिंसा विश्व भारती के समारोह मे भाग लेंगे

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती वर्ष पर छत्तीसगढ़ राजभवन  मे होगा विशेष समारोह

नई दिल्लीअहिंसा विश्व भारती के संस्थापक आचार्य डॉ. लोकेशजी ने छतीसगढ़ के मुख्यमंत्री से श्री भूपेश बघेल एवं गृह व सर्वजनिक निर्माण मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू से भेंट कर महात्मा गाँधी के 150वें जन्म जयंती के उपलक्ष्य मे 20 दिसम्बर को छत्तीसगढ़ राजभवन मे आयोजित होने वाले कार्यक्रम “सभी के लिए विकास: सवच्छ भारत, समृद्ध भारत की जानकारी दी  उन्होने बताया कि राज्यपाल सम्मेलन का उदघाटन करेंगी।  आचार्य लोकेश ने मुख्यमंत्री को अहिंसा विश्व भारती द्वारा महात्मा गाँधी के 150वें जन्म जयंती वर्ष पर देश विदेश में किये जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों के बारे में भी चर्चा की। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल एवं गृह व सर्वजनिक निर्माण मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने छत्तीसगढ़ राजभवन में आयोजित हो रहे समारोह मे भाग लेने की सहर्ष स्वीकृति प्रदान की।

आचार्य लोकेश ने इस अवसर पर कहा कि भगवान महावीर के अहिंसा के उपदेश को महात्मा गाँधी ने जीवन में उतारा। अहिंसा के माध्यम से उन्होंने देश को आजादी दिलाई और राष्ट्र को विकास की ओर अग्रसर किया। महात्मा गाँधी जन्म जयंती वर्ष के अवसर पर अहिंसा विश्व भारती संस्था देश के हर प्रदेश में कार्यक्रम आयोजित कर रही है और इसी श्रृंखला  में छत्तीसगढ़ में भी कार्यकम का आयोजन किया जा रहा है।

छतीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि भारत तेज गति से विकास कर रहा है  लेकिन हमें यह भी नहीं भूलना चाहिए कि देश की 20 फीसदी आबादी गरीबी रेखा से नीचे जीवन बिता रही है और उनमें से 20 प्रतिशत निरक्षर हैं।  आज देश के सामने ये चुनौतियां हैं और विकास के जरिए ही गरीबी, निरक्षरता आदि से निबटा जा सकता है। उन्होने आचार्य लोकेश के नेतृत्व में अहिंसा विश्व भारती संस्था द्वारा किए जा रहे कार्यों कि सराहना करते हुए कहा कि संस्था द्वारा देश भर में इस तरह के कार्यक्रमों से समाज को नई दिशा मिलेगी ।