निरंकारी यूथ समागम में जुटेंगे 6 नगरों के युवा

मथुरा। ब्रज मे पहली बार हो रहे निरंकारी यूथ समागम में मंडल के 6 नगरों के युवा भागीदारी करेंगे। प्रवक्ता किशोर “स्वर्ण” ने बताया कि निरंकारी सद्गुरु माता सुदीक्षा जी के आह्वान पर मथुरा में पहली बार हो रहा निरंकारी यूथ समागम 30 दिसंबर रविवार को हाइवे नवादा स्थित संत निरंकारी सत्संग भवन पर सुबह दस बजे से शुरू होगा।

उन्होंने बताया कि यूथ समागम में नजदीकी 6 नगरों के युवाओं की भागीदारी रहेगी, जो गीत- भजन-कविताएं और लघु नाटक के साथ प्रेरक विचार व्यक्त करेंगे। मुख्य वक्ता आगरा के युवा प्रचारक अमन मेहन्द्रु होंगे।

स्थानीय संयोजक हरविंद्र कुमार ने कहा कि यूथ समागम की तैयारियां पूरी कर ली गई है। अमित खत्री और भरत कुमार के नेतृत्व में भागीदारी करने वाले युवाओं ने शनिवार को अपने द्वारा किए जाने वाले कार्यक्रमों का प्रदर्शन किया और अभ्यास को अंतिम रूप दिया। समागम में युवाओं को आध्यात्म के माध्यम से आधुनिक टेक्नोलॉजी का सदोपयोग करने और बुरी आदतों से दूर रहने के टिप्स दिए जायेंगे। समागम में आगरा, सदाबाद, पुरदिलनगर, हाथरस, कोसीकलां सहित जिले भर के युवा प्रतिभाग करेंगे।

युवा प्रचारक भरत कुमार के मुताबिक यूथ समागम का उद्देश्य युवाओं को आध्यात्म की ओर प्रेरित करना है। सन 1975 में बाबा गुरबचन सिंह जी ने निरंकारी यूथ फोरम बनाया था, जिसे बाबा हरदेव सिंह जी ने भी चलाया, उन्होंने देखा कि संसार भर में युवा वर्ग को गलत दिशा की ओर आकर्षित ही नहीं किया जा रहा बल्कि उनकी शक्ति का भी दुरुपयोग धर्म और मजहब के नाम पर हो रहा है। युवा शक्ति एक उमड़ती हुई नदी के समान है। यदि बांध लगाकर इसे नियंत्रित कर लिया जाता है तो बिजली भी पैदा कर सकती है और हमारे खेतों को हरियाली प्रदान कर सकती है। नहीं तो उमड़ता वेग बाढ़ बन हर ओर जान-माल का नुकसान ही करेगी, जो धरती को नर्क भी बना सकती है।

अमित खत्री ने बताया कि आज युवा शक्ति को नियंत्रित करके इसे नेक कार्यों के लिए प्रयोग करने की जरूरत है। वरना ये शक्ति गलत राह की ओर अग्रसर हो जायेगी। निरंकारी सद्गुरु माता सुदीक्षा जी देशभर में निरंकारी यूथ समागम के माध्यम से नेक दिशा देने का प्रयास कर रही हैं।