देवीपाटन मन्दिर के पूर्व महन्त ब्रह्मलीन महेन्द्रनाथ जी की 17वीं पुण्यतिथि कार्यक्रम में CM योगी हुए शामिल

बलरामपुर/ बुशरा असलम। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज जनपद बलरामपुर में देवीपाटन मन्दिर के पूर्व महन्त ब्रह्मलीन महेन्द्रनाथ जी की 17वीं पुण्यतिथि के अवसर पर वहां आयोजित कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। इस अवसर पर उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि देवीपाटन मन्दिर को विकसित करने में महन्त ब्रह्मलीन महेन्द्रनाथ जी का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उनके द्वारा जनता के विकास एवं कल्याण के लिए कई कार्यक्रम संचालित किए गए।
CM योगी ने कहा कि धर्म हमें स्वच्छता के साथ-साथ पर्यावरण की रक्षा करने की सीख देता है। उन्होंने गोवंश के महत्व को बताते हुए उसकी सेवा करने की बात कही। साथ ही, यह भी कहा कि अवैध रूप से खनन एवं पेड़ों की कटान से प्रकृति का संतुलन बिगड़ रहा है, जो चिंता का विषय है। प्रदेश सरकार खनन माफियाओं तथा अवैध रूप से पेड़ों की कटान करने वालों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही करेगी। उन्होंने कहा कि प्रकृति ने हमे जीवन जीने लायक वातावरण दिया है, उससे सामंजस्य बनाकर चलना चाहिए। उन्होंने मन्दिर परिसर का निरीक्षण कर नेपाल व दूर-दराज से आए महंतों, साधु-संतों, अनुयायियों व शिष्यों आदि से मुलाकात की।
इस अवसर पर नेपाल राष्ट्र से कार्यक्रम में सम्मिलित होने आये नेपाल के सांसद श्री अभिषेक प्रताप शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा भारत व नेपाल के बीच के सम्बन्धों को प्रगाढ़ व मजबूत करने के लिए कार्य किया जा रहा है। आयोजित कार्यक्रम में जनप्रतिनिधिगण, बड़ी संख्या में साधु-सन्त व कार्यकर्ता मौजूद थे।