दीनता, हीनता व अधीनता त्यागें, स्वाधीनता को अंगीकार करें -श्री सुधांशु जी महाराज

फ़रीदाबाद। विश्व जागृति मिशन के फ़रीदाबाद मण्डल द्वारा हरियाणा की जानी-मानी औद्योगिक नगरी फ़रीदाबाद के टाउन पार्क में चल रहे विराट भक्ति सत्संग महोत्सव के दूसरे दिन सायंकाल हज़ारों नगरवासियों को सम्बोधित करते हुये मिशन प्रमुख आचार्य श्री सुधांशु जी महाराज ने वेदों उपनिषदों सहित समस्त ग्रन्थों तथा श्रीमदभगवदगीता व श्रीरामचरितमानस आदि ग्रन्थों का उल्लेख करते हुये आयु से वरिष्ठ बनने के साथ-साथ विचारों से बड़ा बनने की विविध विधि प्रेरणाएँ उपस्थित जनसमुदाय को दीं और कहा कि वे दीनता, हीनता और अधीनता को त्याग कर स्वाधीनता का मन्त्र अपनाएँ एवं स्वाभिमानी जीवन जियें। इसके लिए अन्तर में सोयी शक्तियों का जागरण करके आत्म बल को अपना अमोघ अस्त्र बनाएँ। परोपकारी जीवन जीने से यह सहज सम्भव हो जाता है।

‘परोपकार’ की व्याख्या करते हुये उन्होंने कहा कि दूसरों के जीवन को आसान बनाने में सहयोग करना ही वास्तव में परोपकार है। श्रद्धेय महाराजश्री ने रिश्तों, शिक्षा व संस्कार, व्यापार व व्यवहार इत्यादि विषयों पर प्रखरता से प्रकाश डाला।

इस मौक़े पर जहाँ मिशन मुख्यालय आनन्दधाम से आयीं संगीत टोली ने प्रेरक भजन व गीत प्रस्तुत किये, वहीं NIT-३ स्थित ज्ञानदीप विद्यालय की छात्राओं ने दो सांस्कृतिक प्रस्तुतियाँ देकर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का सन्देश दिया। ज्ञातव्य है कि इस विद्यालय में पूर्वाहनकाल में उन अति-निर्धन बालिकाओं तथा अपराहनकाल में बालकों को नि:शुल्क शिक्षा प्रदान की जाती है, जो कूड़ा आदि बीनकर परिवार की गुज़र-बसर करते हैं। मिशन प्रतिनिधि डा. आर. बी. बारी ने बताया कि जनता के सहयोग से ऐसे अन्य बच्चों को पढ़ाई-लिखाई की व्यवस्था किए जाने की योजना है।

इस अवसर पर विश्व जागृति मिशन के कोषाध्यक्ष एवं फ़रीदाबाद मण्डल के प्रधान राजकुमार अरोड़ा, दिशा टीवी चैनल के मुख्य वित्त अधिकारी पंकज अग्रवाल सहित कई गण्यमान व्यक्ति मौजूद रहे

महोत्सव का संचालन-समन्वयन मिशन मुख्यालय नई दिल्ली के वरिष्ठ प्रतिनिधि एवं निदेशक राम महेश मिश्र ने किया। उन्होंने बताया कि १४ अक्टूबर प्रातः ०८ बजे श्री लक्ष्मी सिद्धि साधना शिविर आरम्भ होगा, जो १० बजे तक चलेगा। मण्डल प्रमुख श्री राजकुमार अरोड़ा ने बताया कि १५ अक्टूबर को सामूहिक दीक्षा का कार्यक्रम सम्पन्न होगा।