श्रावण मास में करें अपनी राशि के अनुसार शिव पूजा,भोलेनाथ की बरसेगी कृपा

नई दिल्ली/ संदीप कुमार मिश्र। शिव की आराधना का सर्वोत्तम मास है श्रावण मास।आदियोगी महादेव को पवित्र श्रावण मास में प्रसन्न करना और मनवांछित फल प्राप्त करना आसान होता है,क्योंकि सावन माह में आपके पूजा-पाठ,जप-तप,पूजन-हवन का फल दोगुना हो जाता है। ऐसे में आप अपनी राशि के अनुसार कैसे करें शिव की पूजा,जिससे आपकी भक्ति से महादेव की बरसे आप पर कृपा आईए जानते हैं।

मेष राशि- मेष राशि वालों को महादेव को प्रसन्न करने के लिए लाल चंदन के साथ लाल रंग के पुष्प चढ़ाने चाहिए और नागेश्वराय नम: मंत्र का पूरी श्रद्दा के साथ जाप करना चाहिए।

वृषभ राशि- चमेली के फूल चढ़ाकर वृषभ राशि के जातकों को रुद्राष्टाकर का पाठ करना चाहिए ।

मिथुन राशि- मिथुन राशि के जातक भगवान शिव को धतूरा, भांग चढ़ाएं और पंचाक्षरी मंत्र का जाप करें।

कर्क राशि- शिवलिंग का भांग मिश्रित दूध से अभिषेक कर्क राशि के जातक को अत्यधिक लाभ पहुंचाएगा और यदि रुद्राष्टाध्यायी का पाठ भी साथ में करें तो भोलेनाथ की अतिविशेष कृपा आप पर बनी रहेगी।

सिंह राशि- सिंह राशि वाले पूरे माह शिवजी को कनेर के लाल रंग के फूल अर्पित करें और शिव मंदिर में नित्य शिव चालीसा का पाठ करें।

कन्या राशि- कन्या राशि के जातक शिवलिंग पर बेलपत्र, धतूरा, भांग आदि का श्रृंगार चढ़ाएं और पंचाक्षरी मंत्र  का जाप करें,शिव की कृपा बरसेगी।

तुला राशि- तुला राशि के शिव भक्त दूध में मिश्री मिलाकर शिवलिंग का अभिषेक करें और शिव जी के सहस्रनाम का जाप करें।

वृश्चिक राशि- वृश्चिक राशि वाले महादेव को गुलाब का पुष्प और बिल्वपत्र की जड़ चढ़ाएं और नित्य रुद्राष्टक का पाठ करें।

धनु राशि- धनु राशि के जातक नित्य प्रात: शिवजी के चरणों में पीले फूल अर्पित करें, महादेव को खीर का भोग लगाएं और शिवाष्टक का पाठ करें,शिव की कृपा बरसेगी।

मकर राशि- मकर राशि के जातक जीवन में शांति और समृद्धि पाने के लिए शिवजी को धतूरा,फूल, भांग एवं अष्टगंध चढ़ाएं और पार्वतीनाथाय नम: मंत्र का जाप करें।

कुंभ राशि- कुंभ राशि वाले शिवलिंग का गन्ने के रस से अभिषेक करने के साथ ही शिवाष्टक का पाठ करें,  आर्थिक लाभ प्राप्त होगा।

मीन राशि- मीन राशि के शिवभक्त शिवलिंग पर पंचामृत, दही, दूध और पीले फूल चढ़ाएं साथ ही चंदन की माला से 108 बार पंचाक्षरी मंत्र का जाप करें,कुटुंब में धन-धान्य की वृद्धि होगी।

।।श्रावण मास में भगवान की कृपा आप सभी पर सदैव बनी रहे।हम यही कामना करते हैं।।

।।ऊं नम: शिवाय।।

साभार- http://sandeepaspmishra.blogspot.com/2018/07/blog-post.html