अटल अखाड़ा के संत सबसे पहले करेंगे शाही स्नान 

प्रयागराज/ देवेश दुबे। 14 जनवरी से शुरू हो रहे कुम्भ मेले के दौरान अखाड़ों के शाही स्नान का वक्त तय कर दिया गया है। सभी अखाड़ों को 45 मिनट का वक्त दिया जाएगा। सर्वप्रथम महानिर्वाणी अखाड़े का शाही स्नान होगा वही। सबसे आखिर मेंं निर्मल अखड़े के संत-संन्यासी शाही स्नान करेंगे। 

गौरतलब है कि कुम्भ मेले के दौरान सभी 13 अखाड़े तीन शाही स्नानों में हिस्सा लेंगे। 15 जनवरी को मकर संक्रान्ति, चार फरवरी को बसंत पंचमी और 10 फरवरी को पौष पूर्णिमा के स्नान में सभी अखाड़ों को शाही स्नान करना है। अखाड़ों के शाही स्नान में आचार्य महामंडलेश्वर और लाखों नागा साधु संत मौजूद रहेंगे। इस स्नान के लिए मेला प्रशासन ने अलग से तैयारी शुरू की है। शाही स्नान के लिए अखाड़ा स्नान घाट तैयार किया जा रहा है। यह संगम नोज के पास ही होगा। प्रत्येक अखाड़े को स्नान के लिए 45 मिनट का वक्त दिया जाएगा। इसके साथ ही अखाड़ों के स्नान के बाद कुछ वक्त घाट की साफ-सफाई के लिए रखा जाएगा।

“एडीएम एसके शर्मा के मुताबिक अखाड़ों के शाही स्नान का वक्त तय कर लिया गया है। जल्द ही सभी अखाड़ों के साथ बैठक कर इस पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।”

निर्धारित शाही स्नान का वक्त
महानिर्वाणी, अटल अखाड़ा- सुबह 5.15 बजे
निरंजनी, आनंद अखाड़ा सुबह 6.05 बजे
जूना, आवाहन, श्रीपंच अग्नि अखाड़ा सुबह 7 बजे
निर्वाणी अनि अखाड़ा 9.40 बजे,
दिगंबर अनि अखाड़ा 10.40 बजे
निर्मोही अनि अखाड़ा 11:40बजे
नया उदासीन अखाड़ा 12.15 बजे
बड़ा उदासीन अखाड़ा 1:15 बजे
निर्मल अखाड़ा 2.40 बजे