स्वच्छता का संदेश घर-घर पहुंचाने के लिए प्रदेश में किन्नरों का सहयोग लिया जाएगा- शिवराज सिंह चौहान

भोपाल/ अर्चना सक्सेना। गांधी जयंती के मौके पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में देश के दूसरे थर्ड जेंडर टॉयलेट का लोकार्पण किया। इस मौके पर सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में किन्नरों को आवास निर्माण के लिए केंद्र सरकार के अनुदान के अतिरिक्त राज्य सरकार की ओर से डेढ़ लाख रुपए का अनुदान दिया जाएगा।

इससे पहले दक्षिण कोलकाता स्थित बांसद्रोणी इलाके में किन्नरों के लिए अलग शौचालय की व्यवस्था की गई है। इसका नाम त्रिधारा (तीसरी -शक्ति) रखा गया है। इसके साथ ही कोलकाता देश का ऐसा पहला शहर बन गया था। थर्ड जेंडर के लिए ऐसी व्यवस्था की गई। किन्नरों को यह सुविधा दिलाने में 21 वर्षीय छात्र शोभन मुखर्जी की अहम भूमिका रही है।

सीएम ने सोमवार को आजाद मार्केट में गणपति चौक मंगलवारा के पास किन्नरों के लिए निर्मित शौचालय का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही किन्नर पंचायत का आयोजन किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि किन्नर देश के सम्मानित नागरिक हैं। प्रदेश सरकार उनका पूरा सम्मान करती है। सकारात्मक कार्यों में उनकी सेवाओं का उपयोग सरकार करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज में किन्नरों की सार्थक भूमिका सुनिश्चित की जाएगी। स्वच्छता का संदेश घर-घर पहुंचाने के लिए प्रदेश में किन्नरों का सहयोग लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कुपोषण को दूर करने और ‘बेटी बचाओ’ अभियान के संदेश को भी सर्वव्यापी बनाने में किन्नर समुदाय का सहयोग लिया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि किन्नर समुदाय को बदनाम करने वाले अवांछनीय तत्वों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही के लिए प्रशासन को निर्देशित किया जाएगा। उन्होंने नगर निगम की किन्नरों के प्रति संवेदनशीलता प्रदर्शन की प्रभावी पहल की सराहना की। उन्होंने किन्नरों के प्रति समाज और सरकार के सम्माननीय दृष्टिकोण को प्रदर्शित करने के लिए किन्नर समुदाय के प्रतिनिधियों मंगलवार के उस्ताद सुरैया नायर और बुधवारा की पल्लवी नायर को पुष्पगुच्छ भेंट कर सम्मानित किया और उन्हें स्वच्छग्राही नियुक्ति कार्ड भी दिए।

महापौर आलोक शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार समाज के सभी वर्गों के प्रति संवेदनशील है। इसी भावना के अनुरूप नगर निगम द्वारा किन्नरों को क्वालिटी लाइफ उपलब्ध कराने के प्रयास किए हैं। उनके लिए सार्वजनिक शौचालय बनवाया गया है। नगर निगम भोपाल की पहल पर प्रधानमंत्री आवास योजना में केन्द्र सरकार ने किन्नरों को भी शामिल किया है। योजना के अंतर्गत अब उन्हें भी पक्के आवास प्रदान किए जाएंगे।

नगर निगम भोपाल द्वारा बनवाया गया जनसुविधा केन्द्र देश एवं प्रदेश में इकलौता समावेशी जनसुविधा केन्द्र है। इसमें एक ही परिसर में पृथक-पृथक प्रवेश द्वार से महिला, पुरूष, दिव्यांग तथा थर्ड जेंडर हेतु मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराई गई है।