कुम्भ-2019 में नेत्रकुम्भ का आयोजन अत्यन्त पुण्य का कार्य है- सीएम योगी

प्रयागराज/ बुशरा। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज प्रयागराज में कुम्भ भ्रमण के दौरान किला के पास लेटे हनुमान जी का दर्शन किया, उन्होंने फूल, दूध चढाकर विधिवत मंत्रोच्चार के साथ पूजा-अर्चना की। उसके बाद किला के अन्दर जाकर अक्षयवट, सरस्वतीकूप के दर्शन एवं पूजन किये। मुख्यमंत्री ने कैबिनेट बैठक के बाद प्रेसवार्ता को सम्बोधित किया और संगम नोज पर मंत्री परिषद के मंत्रियों के साथ संगम में स्नान किया। मुख्यमंत्री समेत मंत्रीगणों ने मंत्रोच्चारण के साथ मॉ गंगा की आरती करते हुये देश-प्रदेश की शांति एवं सुख-समृद्वि की मॉ गंगा से कामना की। सीएम योगी ने कुम्भ में नाथ सम्प्रदाय के शिविर में मंत्रिमण्डल समेत पहुंचकर नाथ सम्प्रदाय के धर्मध्वज की पूजा-अर्चना की।

सीएम योगी ने कुम्भ भ्रमण के दौरान मंत्रिमण्डल के मंत्रियों के साथ सेक्टर-6 के नागवासुकी में बनाये गये नेत्रकुम्भ का जायज़ा लिया। उन्होंने भाऊराव देवरस तथा प्रो0 राजेन्द्र सिंह रज्जू भैया के चित्र पर पुष्प भी अर्पित किये। सीएम ने नेत्रकुम्भ में बने विशाल अस्पताल में भर्ती मरीजों से उनके हाल जाने। नेत्रकुम्भ में लगे शिविर के विभिन्न अनुभागों में जाकर मरीजों को दी जा रही है सुविधाओं, परीक्षण, दवा, चश्मा वितरण आदि का अवलोकन करते हुये व्यवस्थाओं की प्रशंसा की। मुख्यमंत्री ने नेत्रकुम्भ की दीवाल पर अपनी मंगलमय शुभकामनाएं देते हुये लिखा कि प्रयागराज कुम्भ-2019 में नेत्रकुम्भ का आयोजन अत्यन्त पुण्य का कार्य है। इस नेत्रकुम्भ में सदगुरू नेत्र चिकित्सालय जानकी कुण्ड चित्रकूट, अखिल भारतीय आर्युविज्ञान संस्थान ऋषिकेश, सरोजनी नायडू मेडिकल कालेज आगरा, मनोहरदास नेत्र चिकित्सालय प्रयागराज, सीतापुर ऑख अस्पताल, चिकित्सा विश्वविद्यालय लखनऊ, लाला लाजपत राय मेमोरियल कालेज मेरठ, बाबा राघवदास मेडिकल कालेज गोरखपुर आदि सहित देश-प्रदेश के विभिन्न मेडिकल कालेजों के डाक्टरों द्वारा उक्त नेत्र शिविर में मरीजों के नेत्र इलाज किये जा रहे हैं।

उक्त अवसरों पर उप मुख्यमंत्री श्री दिनेश शर्मा, उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री सिद्वार्थ नाथ सिंह, औद्योगिक विकास मंत्री श्री सतीश महाना, ऊर्जा मंत्री श्री श्रीकांत शर्मा, महिला कल्याण एवं पर्यटन मंत्री डा0 रीता बहुगुणा जोशी, नागरिक उडडयन मंत्री श्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी, कृषि मंत्री श्री सूर्य प्रताप शाही, विधि एवं न्याय मंत्री श्री बृजेश पाठक, ग्राम्य विकास राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री महेन्द्र सिंह आदि मंत्रिमण्डल के सदस्य उपस्थित रहें।