“पेड़ अर्पण पितृ तर्पण” से प्रभावित होकर कैलाश विजयवर्गीय ने लिया वृक्षारोपण का संकल्प

ऋषिकेश। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सपरिवार परमार्थ निकेतन पहुंचे। परमार्थ प्रांगण में गुरूकुल के ऋषिकुमारों ने मंत्र ध्वनि और पुष्पों के साथ भव्य स्वागत किया। परमार्थ सत्संग भवन में आयोजित श्री मद्भागवत कथा में सहभाग कर ओज युक्त शब्दों से श्रद्धालुओं को सम्बोधित किया। तत्पश्चात परमार्थ परिवार के सदस्यों के साथ आश्रम का भ्रमण किया।

परमार्थ प्रवक्ता नन्दिनी त्रिपाठी ने परमार्थ निकेतन आश्रम, गंगा एक्शन परिवार और ग्लोबल इण्टरफेथ वाश एलायंस द्वारा स्वामी चिदानन्द सरस्वती के मार्गदर्शन में किये जा रहे कार्यों की जानकारी दी। उन्होने स्वामी चिदानंद की नीदरलैण्ड यात्रा के दौरान जल संरक्षण एवं विश्व शान्ति विषय पर पीस पैलेस एवं इन्टरनेशनल कोर्ट आफ जस्टिस में जल संरक्षण पर भव्य सम्मेलन की सफलता के विषय में चर्चा की।श्री कैलाश विजयवर्गीय जी ने स्वामी चिदानंद को स्मरण करते हुये कहा कि महाराज जी के वापस आने पर उनके दर्शन और आशीर्वाद लेने के लिये जरूर परमार्थ निकेतन आयेंगे।

परमार्थ परिवार के सदस्यों के साथ श्री विजयवर्गीय जी ने विश्व में जल की उपलब्धता के लिये वाटर ब्लेंसिग सेरेमनी सम्पन्न की। परमार्थ परिवार के सदस्यों ने पूज्य स्वामी जी का आशीर्वाद स्वरूप शिवत्व का प्रतिक रूद्राक्ष का पौधा भेंट किया। इस अवसर पर परमार्थ परिवार के नरेन्द्र बिष्ट, राजेश दीक्षित, लक्की सिंह, भगत सिंह, हरिओम शर्मा ज्ञानी समेत भारी तादाद में लोग मौजूद रहे।