जन रक्षा यात्रा में शामिल हुए योगी आदित्यनाथ, बोले यूपी से सीखे केरल सरकार

कन्नूर/ बुशरा असलम। यूपी के सीएम और बीजेपी के भगवा ब्रैंड के चेहरे योगी आदित्यनाथ बुधवार को केरल के कन्नूर पहुंचे। यहां वह बीजेपी और आरएसएस कार्यकर्ताओं की राजनीतिक हत्याओं के खिलाफ पार्टी की ओर से निकाली जा रही ‘जनरक्षा यात्रा’ में शामिल हुए। योगी ने स्थानीय बीजेपी नेताओं के साथ पदयात्रा निकाली।

योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि लोकतंत्र में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं है, लेकिन यहां राजनीतिक हत्याएं हो रही हैं। ‘यह यात्रा केरल, पश्चिम बंगाल और त्रिपुरा की कम्युनिस्ट सरकारों के लिए आईना है। उन्हें राजनीतिक हत्याओं का अंत करना चाहिए।’

योगी के केरल दौरे पर कांग्रेस ने कहा कि जो अपना घर नहीं संभाल पा रहे हैं, वो केरल जा रहे हैं। योगी केरल की समस्याओं को उजागर करने से पहले अपने राज्य को अच्छी व्यवस्थाएं दे दें। इसके बाद फिर दूसरे प्रदेशों में जाकर वहां के कानून व्यवस्था का जायजा लें।

अमित शाह और योगी आदित्यनाथ की यात्रा पर निशाना साधते हुए सीपीएम नेता बृंदा करात ने कहा कि बीजेपी का यह कारनामा सिर्फ पाखंड ही नहीं, बल्कि असत्यमेव जयते हैं। उन्होंने कहा कि कानून एवं व्यवस्था बनाए रखना निश्चित रूप से हमारी जिम्मेदारी है, लेकिन आंकड़े बताते हैं कि वास्तिक पीड़ित कौन है। स्कैम से ध्यान भटकाने के लिए ये सब किया जा रहा है।

आपको बता दें कि कल ही केरल में कार्यकर्ताओं की हत्या के खिलाफ बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने जनरक्षा यात्रा की शुरुआत की है। बात चीत के दौरान अमित शाह ने बताया  कि जब तक केरल में कार्यकर्ताओं पर हिंसा नहीं रुकेगी तब तक आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने बताया कि केरल में पिछले कुछ सालों में बीजेपी-आरएसएस कार्यकर्ताओं की हत्या के मामले बढ़े हैं। केरल में 120 से ज्यादा बीजेपी-आरएसएस कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है। जिसमें 84 अकेले कन्नूर जिले में हत्या हुई है।5 दिनों तक चलने वाली बीजेपी की जनरक्षा यात्रा में अगले कुछ दिनों में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, गिरिराज सिंह, धर्मेंद्र प्रधान, अनंत कुमार, राज्यवर्धन सिंह राठौर और वी के सिंह भी शामिल होंगे।