चैत्र मेले के दौरान रात-दिन खुला रहेगा दियोटसिद्ध मंदिर

हमीरपुर। उत्तरी भारत के प्रसिद्ध सिद्धपीठ बाबा बालक नाथ मंदिर में चैत्र माह मेले 14 मार्च से शुरू हो रहे हैं। मेलों को लेकर मंदिर न्यास और पुलिस विभाग ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। मेले का शुभारंभ जिलाधीश हमीरपुर 14 मार्च को झंडा रस्म के साथ करेंगे। मंदिर में लाखों की संख्या में श्रद्धालु बाबा के दर्शनों के लिए दियोटसिद्ध में पहुंचते हैं। देश विदेश से श्रद्धालु लाखों रुपये का चढ़ावा और अन्य सामग्री बाबा को अर्पित करते हैं।

मंदिर न्यास प्रशासन द्वारा श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए मंदिर को रात-दिन खुला रखने का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा श्रद्धालुओं के रहने और खाने पीने के लिए प्रशासन ने उचित प्रबंध किया है। दो वर्ष पूर्व मंदिर प्रशासन के सहयोग से मंदिर को ऑनलाइन कर दिया गया है। जिसके चलते सात समुद्र पार बैठे बाबा के भक्त अब घर बैठे दरबार की हाजिरी भर रहे हैं। इसके अलावा बाबा के भक्त रहने के लिए कमरों की बुकिंग ऑनलाइन करवा सकते हैं। जिसके लिए मंदिर ट्रस्ट ने संपूर्ण व्यवस्था कर ली है। इस संबंध में मंदिर न्यास अध्यक्ष विशाल शर्मा का कहना है कि बाबा बालक नाथ मंदिर न्यास दियोटसिद्ध में चैत्र मास मेले 14 मार्च को झंडा रस्म के साथ शुरू होंगे। उन्होंने कहा कि यह मेले 30 अप्रैल तक चलेंगे। विशाल ने कहा कि न्यास प्रशासन ने इसके लिए सभी औपचारिकताएं पूरी कर ली हैं। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं को मेलों के दौरान बेहतर सुविधा प्रदान की जाएगी।