अयोध्या पर कोर्ट का फैसला कबूल, लेकिन अयोध्या में कयामत तक मस्जिद रहेगी – मौलाना अरशद मदनी

नई दिल्ली/ शाहिद खान। जमीयत उलेमा-ए-हिंद के अध्यक्ष मौलाना अरशद मदनी ने कहा है कि अयोध्या पर सर्वोच्च अदालत का जो भी फैसला होगा, उसे मुसलमान कबूल करेंगे। मदनी ने इसके साथ ही ये भी कहा कि बाबरी मस्जिद, कानून और न्याय की नजर में एक मस्जिद थी। करीब 400 साल तक मस्जिद थी, इसलिए शरीयत के लिहाज आज भी वो एक मस्जिद है और कयामत तक मस्जिद ही रहेगी। मदनी ने उम्मीद जतायी कि अदालत का फैसला मुस्लिम पक्ष के हक में आएगा। एनआरसी के सवाल पर जमीयत प्रमुख ने गृहमंत्री अमित शाह के बयान की निंदा की और कहा कि धर्म के आधार पर किसी के साथ भेदभाव नहीं होना चाहिए।